अग्रसर के साथ आगे बढ़ना

June 21, 2022

मेरा नाम सुमित है और मैं अभी कक्षा 12वी में पढ़ रहा हूँ | मैं पढाई के साथ साथ जॉब भी करता हूँ | 1 साल पहले मुझे अग्रसर के बारे में मेरे दीदी के द्वारा पता चला जो यहाँ जॉब करती है | अग्रसर में आने के बाद मेरा जॉब साहस में लगा दिया गया | काम करने के साथ साथ मैं अग्रसर साथी भी रह चूका हूँ|

8 दिसंबर 2021 में अग्रसर प्रवासी में मेरा जॉब लग गया | अग्रसर में आने के बाद मैंने अपने ज्ञान को बढ़ाया है और साथ ही मैंने पिछले 6 महीने में एनजीओ के बारे में बहुत कुछ सीखा है | जैसे की मुझे बड़े लेवल के लोगो से बात करने में हिचकिचाहट होती थी लेकिन अब मैं बिना डरे किसी भी तरह के लोगो से बात कर लेता हूँ |

ऐसे ही मुझे कम्प्यूटर का भी ज्ञान बिलकुल नहीं था लेकिन अग्रसर में आने के बाद मैंने कम्प्यूटर से जुड़ा ज्ञान भी प्राप्त किया | जैसे - एक्सेल में काम करना ,ऑनलाइन दस्तावेज़ बनाना, कोई नई स्कीम को खोजना आदि |

इसके अलावा मैंने बैंक से जुड़ी जानकारी भी प्राप्त की | सबसे महत्वपूर्ण सीख मिली है फील्ड से - जैसे की लोगो को किसी भी स्कीम को लेकर कैसे मोटिवेट करते है | और ये भी जानना जरुरी है लोग मेरी बातो से कितना मोटिवेट है | इन बातो को जानने के लिए मुझे कुछ चीज़ो पर ध्यान देना पड़ता हैं जैसे की वो हमारी बातो को कितना ध्यान से सुन रहे है और वे बात करते समय सवाल भी करते है या नहीं |

मैंने यहाँ हर दिन कुछ नया सीखा है | इतना कुछ सीखने में मेरी टीम का बहुत ही बड़ा योगदान रहा है| मुझे आगे भी बहुत सी चीजों पर ज्ञान हासिल करना है |

सिखाने वालो से ज्यादा निर्भर करता है सीखने वालो पर की वे सीखने में कितनी दिलचस्पी रखते है | हमे जिस काम में दिलचस्पी होती है हम उस काम को आसानी से और जल्दी कर लेते है |

Sumit Kumar

sumit.kumar@agrasar.org